आर के स्टूडियो के बाद मुंबई का चित्रा सिनेमा भी हुआ बंद, कई यादगार फ़िल्में हुई हैं यहां रिलीज़

Get Daily Updates In Email

हिंदी फिल्मों की नगरी मुम्बई का एक और सिनेमाघर बंद हो गया है. मुम्बई के दादर इलाके में स्थित चित्रा सिनेमाघर 17 मई से बंद हो गया. इस सिनेमाघर में अंतिम फ़िल्म के रुप में करण जौहर की फ़िल्म द ‘स्टूडेंट्स ऑफ द ईयर 2’ का शो गुरुवार की रात को हुआ. दादर ईस्ट के मुख्य मार्ग पर स्थित चित्रा सिनेमाघर मुम्बई महानगर के सिंगल थिएटरों में से एक था.

यह सिनेमाघर पिछले कई साल से अस्तित्व बचाने के लिए संघर्ष कर रहा था. सिनेमाघर के प्रबंधन का कहना है कि इस दौर में सिंगल थिएटर चलाना अब मुमकिन नहीं रहा है. थिएटर के लगातार बढ़ते जा रहे खर्चों और कम होती आमदनी ने हमारे रास्ते बंद कर दिए. कहा जा रहा है कि यहां अब सिनेमाघर तोड़कर एक बिल्डिंग का निर्माण होगा. सिनेमा प्रबंधन ने अभी इस डील की खबर पर कुछ नहीं कहा है. महानगर मुम्बई में पिछले 5 साल में सौ से ज़्यादा सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों को ताले लग चुके हैं. बाकी थिएटरों का भी बुरा हाल है.

चित्रा सिनेमाहॉल के तीसरी पीढ़ी के मालिक दारा मेहता ने कहा कि, ‘ऑनलाइन स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म ने हमारे व्यवसाय को प्रभावित किया है. अब लोगों के पास ओटीटी प्लेटफॉर्म पर कई सारे ऑप्शन हैं. पिता जी के बाद 1982 से मैं इस बिजनेस को देख रहा था. इस थियेटर में कई सारी सुपरहिट फिल्में दिखाई गई हैं.’

बता दें इस सिंगल थियेटर में 550 सीटें थी. इसमें जैकी श्रॉफ की फिल्म ‘हीरो’ भी लगी थी. जो कि साल 1983 में रिलीज हुई थी. इसके अलावा मशहूर अभिनेता शम्मी कपूर की सुपरहिट फिल्म ‘जंगली’ भी दिखाई गई थी. इतना ही नहीं यह फिल्म लगातार 25 हफ्तों तक इस सिनेमाघर में लगी रही थी.

इस थियेटर के बंद होने से कुछ दिन पहले कपूर खानदान के मशहूर ‘आर के स्टूडियो’ के बिकने की खबर ने भी फैंस को भावुक कर दिया था. इस खबर के आते ही यूजर्स ने सोशल मीडिया पर रिएक्शन देना शुरू कर दिया था. हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता राज कपूर ने मुंबई के चेंबूर में 1948 में इस स्टूडियो की स्थापना की थी

Published by Yash Sharma on 18 May 2019

Related Articles

Latest Articles