हमेशा शो में रोती दिखती हैं दिव्यांका-सोनाली जैसी टीवी एक्ट्रेसेस, बड़ी तादाद में हैं इनके फैंस

Get Daily Updates In Email

एकता कपूर टीवी सीरियल्स की क्वीन कही जाती हैं. उनके सीरियल में अक्सर रोना धोना ही दिखाया जाता है. जिसके लिए एक्ट्रेसेस को ग्लिसरीन लगाना पड़ता है. यहां हम आपको ऐसी ही कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें रोने के लिए ग्लिसरीन की जरुरत नही पड़ती है. तो चलिए आपको बताते हैं कौन सी हैं ये एक्ट्रेसेस –

1. मोना सिंह –

View this post on Instagram

#kehnekohumsafarhain #shootmode #posing

A post shared by Mona Singh (@monajsingh) on

टीवी एक्ट्रेस मोना सिंह को हर कोई जानता है. उन्हें ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’ के लिए खूब पसंद किया जाता है. उन्हें भी कई बार शो में रोते हुए देखा गया है. लेकिन इंटरव्यू के दौरान मौना ने बताया था कि वो इमोशनल सीन के लिए ग्लिसरीन का प्रयोग करने में विश्वास नहीं रखती हैं.

2. दिव्यांका त्रिपाठी –

View this post on Instagram

It's sun shining or its just blessings? #Unadulterated

A post shared by Divyanka Tripathi Dahiya (@divyankatripathidahiya) on

दिव्यांका का नाम टीवी की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली एक्ट्रेसेस में शामिल है. वह भी आए दिन अपने शो ‘ये है मोहब्बतें’ में रोते हुए नजर आती हैं. ख़बरों की माने तो दिव्यांका को भी रोने के लिए कभी किसी चीज़ की ज़रूरत नहीं पड़ती है.

3.सोनाली निकम –

सोनाली को टीवी शो ‘आधे अधूरे’ और ‘एक विवाह ऐसा भी’ के लिए जाना जाता है. सोनाली के हिसाब से जब वो एक्टिंग करती हैं तो खुद को अपने किरदार में ढाल लेती हैं, इस तरह वो अपने किरदार के हर इमोशन को अच्छी तरह से फील करती हैं. यही वजह है कि उन्हें रोने के लिए ग्लिसरीन या किसी और चीज़ की ज़रूरत नहीं पड़ती है.

4. दिगांगना सूर्यवंशी –

स्टार प्लस के शो ‘एक वीर की अरदास-वीरा’ में वीरा के किरदार में नजर आने वाली दिगांगना को दर्शकों का खूब प्यार मिला है. इस शो में वह कई बार रोते हुए नजर आ चुकी हैं. एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने खुद इस बारे में कहा था कि उन्हें रोने के लिए कभी ग्लिसरीन की जरूरत नहीं पड़ी. उनके हिसाब से एक बार उन्होंने अपने घर पर बस देखने के लिए अपनी आंखों में ग्लिसरीन लगाया जिससे उनकी आंखों में जलन होने लगी. जिसके बाद उन्होंने बताया कि उन्हें कभी-कभी तो शूटिंग के दौरान दिन भर में 13 से 14 घंटों तक रोना पड़ता है लेकिन फिर भी वह कभी ग्लिसरीन का प्रयोग नहीं करती हैं.

Published by Chanchala Verma on 08 Jun 2019

Related Articles

Latest Articles