कभी बीमा एजेंट हुआ करते थे मशहूर विलेन अमरीश पुरी, 39 की उम्र में मिला था पहला रोल

Get Daily Updates In Email

हिंदी सिनेमा के मशहूर खलनायक अमरीश पुरी आज किसी परिचय का मोहताज नहीं है. अगर गब्बर के बाद किसी खलनायक को याद किया जाता है तो वह मोगैंबो हैं. अमरीश पुरी के अंदर ऐसी अद्भुत क्षमता थी कि वह जिस रोल को करते थे वह सार्थक हो उठता था. अमरीश पुरी का जन्म 22 जून, 1932 को पंजाब में हुआ था.

अमरीश ने ‘मिस्टर इंडिया’, ‘नगीना’, ‘नायक’, ‘दामिनी’ और ‘कोयला’ जैसी कई फिल्मों में अपनी एक्टिंग लाखों दिलों में जगह बनाई. उनके कुछ किरदारों की आज भी जमकर चर्चा होती है. 80 और 90 के दशक में अमरीश फिल्मों का अहम हिस्सा हुआ करते थे. मोगैंबो के नाम से चर्च‍ित अभ‍िनेता अमरीश पुरी बॉलीवुड में हीरो बनने का ख्वाब लेकर मुंबई आए थे लेकिन किस्मत ने उन्हें विलेन बना दिया.

View this post on Instagram

Bollywood 🌟 #amrishpuri

A post shared by २|जेश (@rajyesh_shrma) on

साल 1967 में उनकी पहली मराठी फिल्म ‘शंततु! कोर्ट चालू आहे’ आई थी. इस फिल्म में उन्होंने एक अंधे व्‍यक्‍त‍ि का रोल प्‍‍‍‍ले क‍िया था. वहीं बॉलीवुड में उन्‍होंने 1971 में ‘रेशमा और शेरा’ से डेब्‍यू क‍िया था. आपको जानकर हैरानी होगी क‍ि अमरीश पुरी शुरुआत में बीमा ऐजेंट के रूप में काम करते थे. बीमा कंपनी की नौकरी के साथ ही वह पृथ्वी थिएटर में काम करने लगे. थिएटर करते ही धीरे-धीरे वो टीवी विज्ञापनों में आने लगे, जहां से वह फिल्मों में विलेन के किरदार तक पहुंचे.

अमरीश को बॉलीवुड में पहला रोल 39 साल की उम्र में मिला था. कुर्बानी, नसीब, हीरो, अंधाकानून, दुनिया, मेरी जंग और सल्तनत जैसी कई फ‍िल्‍मों में उनके क‍िरदार को आज भी याद किया जाता है. अमरीश पुरी ने हिंदी के अलावा कन्नड़, पंजाबी, मलयालम, तेलुगू और तमिल फिल्मों के साथ-साथ हॉलीवुड फिल्म में भी काम किया. उन्होंने अपने पूरे कॅरियर में 400 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया.

अमरीश पुरी के जीवन की अंतिम फिल्‍म ‘किसना’ थी जो उनके निधन के बाद वर्ष 2005 में रिलीज हुई. उन्‍होंने कई विदेशी फिल्‍मों में भी काम किया. उन्‍होंने इंटरनेशनल फिल्‍म ‘गांधी’ में ‘खान’ की भूमिका निभाई थी जिसके लिए उनकी खूब तारीफ हुई थी. फिल्मों में उनके अलग-अलग गेटअप किसी को भी डराने के लिए काफी होते थे. ‘अजूबा’ में वजीर-ए-आला, ‘मि. इंडिया’ में मोगैंबो, ‘नगीना’ में भैरोनाथ, ‘तहलका’ में जनरल डोंग का गेटअप आज भी लोग भुला नहीं पाए हैं.

Published by Yash Sharma on 21 Jun 2019

Related Articles

Latest Articles