नीना ने अपनी अदाकारी से खींचा सबका ध्यान, प्रोफेशनल से ज्यादा पर्सनल लाइफ के लिए रहीं चर्चा में

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड से लेकर टीवी तक अपने काम से लोगों की सराहना पा चुकीं एक्ट्रेस नीना गुप्ता आज अपना 60वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं. नीना गुप्ता जितना अपनी प्रोफेशनल लाइफ को लेकर जानी गईं उससे कहीं ज्यादा उनकी पर्सनल लाइफ ने लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचा. नीना गुप्ता ने 37 साल पहले फिल्म इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरुआत की थी.

उनकी पहली फिल्म ‘साथ-साथ’ थी. इसके बाद आदत से मजबूर, गांधी, ये नजदीकियां के अलावा वे कई फिल्मों में नजर आईं. बॉलीवुड से लेकर टीवी तक अपने काम से लोगों की सराहना पा चुकी हैं. इतना ही नहीं नीना गुप्ता को टीवी पर ‘सांस’, ‘सिस्की’, ‘सात फेरे’ और ‘कमजोर कड़ी कौन’ जैसे हिट शोज के लिए भी याद किया जाता है. नीना गुप्ता को टेलीविजन में ‘खानदान’ सीरियल से लोकप्रियता मिली थी.

View this post on Instagram

Vo jidhar dekh rahe hein

A post shared by Neena Gupta (@neena_gupta) on

नीना गुप्ता की मां चाहती थीं कि नीना आईएएस बनें और पढ़ाई करें. उनके घर में हिंदी सिनेमा को अच्छी नजरों से नहीं देखा जाता था. लेकिन नीना गुप्ता को तो अभिनेत्री ही बनना था, इसलिए उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में दाखिला ले लिया. फिल्म ‘गांधी’ में उन्होंने कस्तूरबा गांधी के किरदार के लिए ऑडिशन दिया था लेकिन उन्हें फिल्म में आभा का किरदार मिला. उस दौरान ‘गांधी’ फिल्म के लिए उन्हें 10 हजार रुपए मिले, जिसके बाद वह मुंबई में अभिनेत्री बनने का सपना लेकर आ गईं.

नीना गुप्ता अस्सी के दशक में मशहूर क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स के साथ अपने अफेयर्स के कारण काफी चर्चा में रहीं और 1989 में उन्होंने विवियन से शादी किए बिना बेटी मसाबा को जन्म दिया. बिन ब्याही मां बनकर उन्होंने भारतीय समाज को चर्चा का एक और विषय दे दिया. विवियन रिचर्ड्स से दिल टूटने के बाद नीना गुप्ता ने साल 2008 में दिल्ली में रहने वाले विवेक मेहरा से शादी कर ली. विवेक पेशे से चार्टर्ड अकाउटेंट हैं. दोनों ने बड़े गुपचुप तरीके से अमेरिका में शादी की थी.

View this post on Instagram

Missing Goa #flashbackmonday

A post shared by Neena Gupta (@neena_gupta) on

हिन्दी फिल्मों में नीना गुप्ता को ‘बाजार सीताराम’ के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला था और साल 1994 में फिल्म ‘वो छोकरी’ के लिए भी वह बेस्ट को-एक्ट्रेस के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित हुईं.

Published by Yash Sharma on 04 Jul 2019

Related Articles

Latest Articles