ब्लॉकबस्टर फिल्म 3 इडियट्स से लेकर ZNMD तक, जानिए दोस्ती पर बनी कुछ बेहतरीन फ़िल्में

Get Daily Updates In Email

फिल्म इंडस्ट्री में दौर कोई सा भी रहा हो फिल्मकारों ने दोस्ती को पर्दे पर भुनाया है. फिल्मों में दोस्ती का रिश्ता प्रमुखता से दिखाया गया है. हाल फिलहाल में रिलीज हुईं उन बेहतरीन 5 फिल्मों के बारे में बात करेंगे जो दोस्ती के ताने-बाने पर बुनी गई हैं और खूब सफल हुईं. दोस्ती की इन फिल्मों से दर्शक खुद को आसानी से कनेक्ट कर लेते हैं. तो चलिए 4 अगस्त को फ्रेंडशिप डे के मौके पर बताते हैं दोस्ती पर बनीं और सफल रही फिल्मों के बारे में.

1. दिल चाहता है

 

साल 2001 में रिलीज हुई फरहान अख्तर निर्देशित यह फिल्म अपने समय से आगे की फिल्म मानी जाती है. फिल्म का कैनवास दोस्तों के सपनों के साथ उनके आंतरिक टकरावों पर भी फोकस करता है. फिल्म दिखाती है कि विचारों में अंतर होने के बाद भी यह दोस्त एक-दूसरे का नजरिया समझने का प्रयास करते हैं. इस फिल्म में तीन दोस्तों की भूमिका आमिर खान, सैफ अली खान और अक्षय खन्ना ने निभाई थी.

2. रंग दे बसंती

View this post on Instagram

Rang De Basanti (2006) Genre : Historical fiction | Comedy | Musical Drama Lang : Hindi Director : Rakeysh Omprakash Running time: 157min ഇന്ത്യൻ സ്വാതന്ത്ര്യസമരകാലത്തെ വിപ്ലവകാരികളുടെ പാത പിന്തുടരുന്ന ആധുനികഭാരതത്തിലെ ഒരുകൂട്ടം ചെറുപ്പക്കാരുടെ കഥയാണ്‌ ചിത്രം പറയുന്നത്. ജനപ്രീതി നേടിയ ചലച്ചിത്രത്തിനുള്ള 2006-ലെ ദേശീയ ചലച്ചിത്രപുരസ്കാരം ഈ ചിത്രം നേടി. ആ വർഷത്തെ മികച്ച വിദേശച്ചിത്രത്തിനുള്ള ഗോൾഡൻ ഗ്ലോബ് പുരസ്കാരത്തിനും ഓസ്കാർ പുരസ്കാരത്തിനുമുള്ള ഇന്ത്യയുടെ ഔദ്യോഗിക നാമനിർദ്ദേശവും രംഗ് ദേ ബസന്തിയായിരുന്നു. രണ്ട് പുരസ്കാരങ്ങൾക്കും ഒടുവിൽ പരിഗണിക്കപ്പെട്ടില്ലെങ്കിലും 2006-ലെ മികച്ച ബാഫ്ത പുരസ്കാരത്തിന്‌ പരിഗണിക്കപ്പെട്ടു. മികച്ച ചിത്രത്തിനുള്ള ഫിലിംഫെയർ പുരസ്കാരവും രംഗ് ദേ ബസന്തി നേടി… . കണ്ടവരുടെയൊക്കെ ഫേവറിറ്റ് ലിസ്റ്റിൽ തീർച്ചയായും കാണും. . #rangdebasanti #aamirkhan #siddharth #madhavan #atulkulkarni #madhavan #mustwatch #worldcinema #indianmovie #indiancinema #mollywood #hollywood #korean #bollywood #tollywood #kollywood #sandalwood #malayalam #subtitle #msone #telegram #cinemapranthan

A post shared by സിനിമ ഭ്രാന്തൻ (@cinema_braanthan) on

 

राकेश ओमप्रकाश मेहरा निर्देशित यह फिल्म भी दोस्ती की कहानी को शानदार तरीके से कहती है. देशप्रेम और दोस्ती के साथ यह फिल्म इसी विषय पर फोकस करती है. आजादी के बैकग्राउंड से जोड़कर बनाई गई यह एक अद्भुत फिल्म है. आमिर खान की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म में शरमन जोशी, माधवन, सिद्घार्थ और अतुल कुलकर्णी ने प्रमुख भूमिका निभाई थी.

3. थ्री इडियट्स

 

दोस्ती और विचारधारा के बदलाव की उम्दा कहानी कहती थ्री इडियट्स को राजकुमार हिरानी ने निर्देशित किया था. इस फिल्म में एक बार फिर आमिर केंद्रीय भूमिका में होते हैं. इंजीनियरिंग कॉलेज के बैकग्राउंड पर बनीं यह फिल्म शिक्षा पद्दति पर बदलावों पर खुला विमर्श करती है. इस फिल्म में तीन दोस्त तीन अलग-अलग तरह की मानसिकताओं का प्रतिनिधित्व करते हैं. आमिर के अलावा फिल्म में शरमन जोशी और माधवन भी नजर आए थे.

4. जिंदगी न मिलेगी दोबारा

View this post on Instagram

Haven't made any plans today to celebrate Friendship Day? Been staying indoors all day and lazing around? We have the best thing you could do! Watch a movie that celebrates friendships and road trips! . And our pick for you is Zindagi Na Milegi Dobara!!! To make it even better, why not invite a few of your best buddies over and have a pizza or few beers? Hmmmm… Sounds like a plan right there! . For people who haven't yet watched the movie here is a small snippet about it: . Zindagi Na Milegi Dobara is the story of three old friends Kabir, Imraan , and Arjun who go on a long-promised trip to Spain. Kabir has just become engaged to his girlfriend Natasha and plans an extended bachelor party with his friends across Spain, where each of the trio chooses an adventure sport in which the other two have to participate. What follows is the journey of a lifetime, along with a whole lot of introspection and bonding. . Let us know which is your favourite friendship related movie? . #TDECapture #TravelDotEarth #Friends #FriendshipGoals #Friendship #FriendshipDay #FriendshipDay2019 #Weekend #WeekendPlans #FriendshipDayWeek #Fun #FunTimes #FunTimesWithFriends #MovieNight #TravelMovie #Movie #Movies #ZindagiNaMilegiDobara #ZNMD #MovieTime

A post shared by Travel.Earth (@traveldotearth) on

जिंदगी ना मिलेगी दोबारा दोस्ती की कहानी कुछ अलग ढंग से कहती है. कहीं-कहीं दार्शनिक हो गई यह फिल्म जीवन में दोस्ती के महत्व को अंडरलाइन करती हुई चलती है. यह फिल्म बताती है कि जीवन में खुद से बात से करना, अपने सपनों से बात करना और अपने दोस्तों से बात करना कितना जरूरी है. फिल्म में फरहान अख्तर, ऋतिक रोशन और अभय देओल मुख्य भूमिका में हैं.

5. काई पो छे

दोस्ती की फिल्मों में अभिषेक कपूर निर्देशित काई पो छे दोस्ती में सपनों के साथ उनके टकरावों की कहानी भी कहती है. लेकिन यह टकराव कहीं भी इतने बड़े नहीं होते कि वह पूरी दोस्ती को प्रभावित कर दें. यहां तीन दोस्त अलग-अलग सोच वाले होते हैं, बावजूद इसके वह एक-दूसरे से ज्यादा खुद को ज्यादा पसंद करते हैं. सुशांत सिंह और राजकुमार यादव ने फिल्म में मुख्य भूमिका निभाई है.

Published by Yash Sharma on 03 Aug 2019

Related Articles

Latest Articles