टूटी कपूर खानदान की 70 साल पुरानी परंपरा, इस बार आर के स्टूडियो में नहीं मनाया जाएगा गणेशोत्सव

Get Daily Updates In Email

कपूर खानदान हर साल गणेश उत्सव को बड़े ही धूमधाम से मनाया करता है. लेकिन इस बार कपूर खानदान गणेश उत्सव नहीं मनाएगा. दरअसल, कपूर खानदान हर साल आरके स्टूडियो में गणेश उत्सव का आयोजन करता था. जिसे बड़े धूमधाम से सेलिब्रेट किया जाता था. लेकिन आरके स्टूडियो के बिक जाने के बाद अब वह धूमधाम नहीं दिखाई देगी.

बता दें कि आरके स्टूडियो में भयंकर आग लगने के बाद हुए नुकसान के बाद इसे बेच दिया गया था. रणधीर कपूर ने हाल ही में इस बारे में बात करते हुए कहा, ‘साल 2018 में हमारे लिए आखिरी गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन था. आरके स्टूडियो ही नहीं रहा तो कहां करेंगे. पापा ने 70 साल पहले यह परंपरा शुरू की थी और वह गणेश को बहुत प्यार भी करते थे. अब हमारे पास जगह ही नहीं है. हम बप्पा को बहुत प्यार करते हैं और उन पर अटूट विश्वास रखते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि अब हम इस परंपरा को आगे नहीं बढ़ा सकते.’

बता दें कि गणेश चतुर्थी के दौरान आरके स्टूडियो में ही पंडाल लगाया जाता था और यहां सारे दिन लोग बप्पा के दर्शन करने आते थे. गणेश चतुर्थी के आखिरी दिन बप्पा को बहुत धूमधाम के साथ विसर्जित किया जाता था. रणधीर कपूर, राजीव कपूर, ऋषि कपूर और रणबीर कपूर इसे बड़े ही धूमधाम से मनाया करते थे.

बता दें कि साल 1948 में चेंबूर में दिग्गज एक्टर राज कपूर ने आरके स्टूडियो की स्थापना की थी. यहां पहली फिल्म आग को शूट किया गया था, जिसमें राज कपूर और नरगिस नजर आए थे. यह फिल्म आरके फिल्म्स के बैन तले बनी पहली फिल्म भी थी. 2017 में आरके स्टूडियो में भयंकर आग लग गई थी, जिसमें भारी नुकसान हुआ था. कुछ वक्त पहले ही आरके स्टूडियो को गोदरेज प्रोपर्टीज को बेचा गया था.

आरके स्टूडियो में गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन और होली का जश्न बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता रहा है. यह पूरे देश में प्रसिद्ध भी रहा है. लेकिन समय के साथ चीजें बदली हैं और अब होली के बाद गणेश चतुर्थी भी नहीं होगी.

Published by Yash Sharma on 31 Aug 2019

Related Articles

Latest Articles