बतौर खलनायक अमजद खान ने बनाई इंडस्ट्री में पहचान, नहीं थे शोले में गब्बर के लिए पहली पसंद

Get Daily Updates In Email

फिल्म ‘शोले’ के गब्बरसिंह उर्फ अमजद खान का आज जन्मदिन है. हिंदी सिनेमा के शानदार अभिनेता ने जिस तरह अपने नेगेटिव किरदार से सबको अपना फैन बनाया उसी तरह अपने पॉजिटिव किरदारों से सबका दिल जीता. इस किरदार के जरिए उन्होंने फिल्मी पर्दे के विलेन को जो नया रूप दिया वह आज के विलेनों में देखने को नहीं मिलता. तभी तो लोग इतने सालों बाद भी गब्बर के किरदार को याद रखते हैं.

अमजद खान ने उस किरदार को इतनी तल्लीनता के साथ निभाया कि लोग उनके असली नाम को भुलाकर उन्हें गब्बर के नाम से ही जानने लगे. लेकिन शायद आप नहीं जानते कि अमजद इस किरदार के लिए पहली पसंद नहीं थे. क्योंकि जावेद अख्तर, जिन्होंने सलीम खान के साथ मिलकर फिल्म की कहानी लिखी थी उन्हें अमजद खान की आवाज गब्बर के किरदार के हिसाब से दमदार नहीं लगी. गब्बर के किरदार के लिए वह डैनी को लेना चाहते थे. लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ कि अमजद खान को इस किरदार के लिए चुना गया और फिर इतिहास के सुनहरे पन्नों पर या किरदार अमर हो गया.

अमजद खान की जिंदगी भी काफी रोचक रही. उनकी कुछ ऐसी आदतें थी ऐसे किस्से थे जो उनके दोस्तों और शूट्स पर काफी मशहूर थे. उनको चाय का बेहद शौक था और रोजाना वह तीस कप चाय तक पी जाते थे और जब उन्हें चाय नहीं मिल पाती थी तो उनके लिए काम करना काफी मुश्किल हो जाता था. गब्बर सिंह के बाद उन्होंने ‘मुकद्दर का सिकंदर’ और ‘दादा’ फ़िल्म में गजब की भूमिका निभाई. वह अभिनेता तो संपूर्ण थे ही, क्योंकि अपने अभिनय जीवन में उन्होंने चरित्र, हास्य और खल भूमिकाओं को जीवंत किया. जिस कारण उन्हें कई बार फ़िल्म फेयर अवार्ड सहित कई अन्य अवार्ड भी मिले.

दोस्ती के मामले में भी अमजद खान किसी से पीछे नहीं थे. अमिताभ बच्चन के साथ उनकी गहरी दोस्ती थी. दोनों ने कई फिल्मों में साथ काम किया जो सुपरहिट रहीं. दिलचस्प बात तो यह है कि जितनी फिल्मों में इन दोनों ने साथ काम किया उनमें से अधिकतर में अमिताभ हीरो रहे तो अमजद विलेन के किरदार में नजर आए.

Published by Yash Sharma on 12 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles