इंटरनेशनल मेंस वीक पर सचिन ने पुरुषों को दिया खास संदेश, कहा- ‘रोने में शर्म जैसी कोई बात नहीं’

Get Daily Updates In Email

इंटरनेशनल क्रिकेट जगत में कई बड़े-बड़े रिकार्ड्स अपने नाम कर चुके टीम इंडिया के पूर्व महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने ‘इंटरनेशनल मेंस वीक’ के अवसर पर सभी लड़कों और पुरुषों के नाम एक पत्र लिखा है. इस पत्र में सचिन तेंदुलकर ने पुरुषों से मजबूत बनने के लिए भावनाओं का खुलकर इजहार करने का अनुरोध किया हैं. सचिन ने पत्र में लिखा हैं, ‘आप जल्द ही पति, पिता, भाई, दोस्त, मेंटर और अध्यापक बनेंगे. आपको उदाहरण तय करने होंगे. आपको मजबूत और साहसी बनना होगा.’

सचिन ने आगे लिखा है, ‘आपके जीवन में ऐसे पल आएंगे, जब आपको डर, संदेह और परेशानियों का अनुभव होगा. वह समय भी आएगा जब आप विफल होंगे और आपको रोने का मन करेगा.’ आगे सचिन ने लिखा, ‘यकीनन ऐसे समय में आप अपने आंसुओं को रोक लेंगे और मजबूत दिखाने का प्रयास करेंगे, क्येंकि पुरुष ऐसा ही करते हैं. पुरुषों को इसी तरह बड़ा किया जाता है कि पुरुष कभी रोते नहीं. रोने से पुरुष कमजोर होते हैं. मैं भी यही सोचते हुए बड़ा हुआ था. लेकिन, मैं गलत था.’

courtesy

सचिन ने कहा, ‘मैं अपने जीवन में कभी भी 16 नवंबर 2013 की तारीख को भूल नहीं सकता. मेरे लिए उस दिन आखिरी बार पवेलियन लौटना बहुत मुश्किल था और दिमाग में बहुत कुछ चल रहा था. मेरा गला रुंध गया था लेकिन फिर अचानक मेरे आंसू दुनिया के सामने बह निकले और हैरानी की बात है कि उसके बाद मैंने शांति महसूस की. अपने आंसुओं को दिखाना कोई शर्म की बात नहीं है. अपने व्यक्तित्व के एक हिस्से को क्यों छिपाना जो वास्तव में आपको मजबूत बनाता है.’

बता दें कि सचिन ने अपने क्रिकेट करियर में कुल 200 टेस्ट मैच खेले हैं. खास बात यह भी है कि सचिन 200 टेस्ट खेलने वाले दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी हैं. आपकी जानकारी के लिए बात दें कि सचिन ने अपने पहले टेस्ट में सिर्फ 15 रन ही बनाए थे. वहीं इसके बाद फैसलाबाद में खेले गए दूसरे टेस्ट में सचिन ने जोरदार वापसी की थी. टेस्ट क्रिकेट में सचिन के नाम पर सबसे ज्यादा रन और सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकार्ड भी उनके नाम पर है. अपने करियर में सचिन तेंदुलकर ने कुल 6 वर्ल्ड कप खेले हैं. जिनमें से साल 2003 में सचिन तेंदुलकर ने एक वर्ल्ड कप में 673 रन बनाकर एक रिकॉर्ड कायम किया था जो कि आज तक किसी ने नहीं तोड़ा है.

Published by Lakhan Sen on 21 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles