किला राय पिथौरा से लेकर गंधक की बावली तक, जानिए दिल्ली की इन ऐतिहासिक जगहों को

Get Daily Updates In Email

दिल्ली शहर ऐतिहासिक धरोहरों का शहर है. पूरी दुनिया भर में मशहूर दिल्ली में बहुत सी ऐतिहासिक इमारतें हैं. आप इस शहर के रहने वाले हों या ना हों काफी कम लोगों ने ही दिल्ली के सभी ऐतिहासिक स्थानों की सैर की होगी. खास बात तो यह है कि मूल रूप से दिल्ली के होते हुए भी आप इन ऐतिहासिक स्थानों के विषय में नहीं जानते होंगे. तो इस वीकेंड समय निकालकर घूम लीजिए यह खास ऐतिहासिक स्थल.

रजिया-अल-दीन मकबरा

 

दिल्ली की पहली बहादुर महिला शासक रजिया बेगम सुल्तान का मकबरा दिल्ली में एक रहस्य की तरह है. तुर्कमान गेट के पास स्थित रजिया सुल्तान की क्रब गुमनाम चीजों की तरह है. माना जाता है कि रजिया सुल्तान को उनके पति अल्तुनिया की सेना ने बगावत कर उन्हें यहीं मार गिराया था, जिसके बाद रजिया को यहीं दफ्न कर दिया गया.

किला राय पिथौरा

 

पृथ्वी राज चौहान द्वारा बनवाए गए इस किले को किला राय पिथौरा के नाम से भी जाना जाता है. महरौली के पास बने इस किले को 11वीं शताब्दी में बनाया गया था, जिसके अंदर पृथ्वी राज चौहान की प्रतिमा भी देखी जा सकती है. किले की हालत देखते हुए, इसे हेरिटेज पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है.

इल्तुतमिश का मकबरा

 

कुतुबमीनार स्थित प्राचीन दिल्ली की यह क्रब, सादगी और वास्तुकला के लिए जानी जाती है. काफी लोगों को इसके बारे में इसलिए भी पता नहीं है, क्योंकि कुछ साल पहले ही इसे पर्यटकों के लिए खोला गया है. अगर आपको इतिहास में दिलचस्पी है तो यहां जाकर अच्छा लगेगा.

गंधक की बावली

 

गंधक की बावली का निर्माण 13वीं शताब्दी में कराया गया था. महरौली स्थित यह बावली शहर का सबसे पुराना और बड़ा कुआं है. कुएं में सल्फर मिले होने की वजह से इसमें गंध आती है. प्राचीन समय से ही कुएं के पानी को काफी गुणकारी माना जाता है और इसे बनाने का श्रेय इल्तुतमिश को जाता है.

Published by Yash Sharma on 22 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles