हैरिस शील्ड टूर्नामेंट: एक टीम ने बनाए 761 रन तो दूसरी टीम के सभी बल्लेबाज हुए जीरो पर आउट

Get Daily Updates In Email

क्रिकेट में कुछ भी हो सकता है, ऐसा ही कुछ हैरिस शील्ड टूर्नामेंट के एक मैच में देखने को मिला. एक टीम के सभी बल्लेबाज शून्य पर आउट हो गए और टीम का स्कोर 7/10 हो गया. सात रन जो टीम के खाते में जुड़े वह एक्स्ट्रा रन के जुड़े. मैच स्वामी विकेकानंद स्कूल और चिल्ड्रन वेलफेयर सेंटर स्कूल के बीच खेला गया. चिल्ड्रन वेलफेयर सेंटर स्कूल का कोई भी बल्लेबाज अपना खाता नहीं खोल सका. इस मैच का स्कोरकार्ड सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

एक्स्ट्रा रन में एक बाय का था जबकि छह वाइड गेंद के रन थे. बोरीवली के स्वामी विवेकानंद स्कूल ने 45 ओवर में चार विकेट पर 761 रन बनाए. मीत मायेकर ने 134 गेंद पर 56 चौकों की मदद से 338 रन बनाए और नॉटआउट लौटे. इस तरह से चिल्ड्रन वेलफेयर सेंटर स्कूल को 754 रनों से हार का सामना करना पड़ा. विवेकानंद स्कूल के लिए आलोक पाल ने तीन रन देकर छह और वराद वाजे ने तीन रन देकर दो विकेट लिए.

View this post on Instagram

Harris Shield is a Cricket Tournament Which every School aspires to Play and Win some day. R. R. Educational Trust's English Medium School – Mulund participated in this tournament for the first time and they started their debut match with a bang. R. R. School defeated Dadar Parsee Youth School – Dadar by 10 runs. R. R. School had some fantastic individual contributions from Rohit, Omkar, Gauresh and a match winning Hat Trick from Sachin Jaiswar. This Proves that if given an opportunity and a platform extraordinary performance could be achieved from ordinary students. R. R. School would like to thank all the students, teachers, parents and management for their continued support. This is just the beginning #harrisshield #firstwin

A post shared by Dr Rajendraprasad R.Singh (@dr_r.r.singh) on

मीत के अलावा इस टीम की तरफ से कृष्णा पात्रे ने 95 रन और ईशान राय ने 67 रन की शानदार पारी खेली. जीत के लिए चिल्ड्रेन वेलफेयर सेंटर स्कूल को 762 रन का विशाल लक्ष्य मिला था. लेकिन यह टीम एक्स्ट्रा से बने सात रन पर ऑल आउट हो गई और उनसे 754 रन के विशाल अंतर से हार का सामना करना पड़ा. भारतीय क्रिकेटर रोहित शर्मा भी विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल से पढ़े हैं. वह इसी स्कूल की टीम से खेलते थे.

रोहित शर्मा एक गरीब परिवार से थे लेकिन अच्छे क्रिकेटर होने की वजह से उन्हें इस स्कूल में एडमिशन मिला था. चिल्ड्रन वेलफेयर स्कूल के बल्लेबाजों को विवेकानंद टीम के दो ही गेंदबाजों ने धूल चटा दी. विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल के तेज गेंदबाज आलोक पाल ने तीन ओवर में तीन रन देकर 6 विकेट लिए वहीं कप्तान वरोद राजे ने दो विकेट चटकाए. जबकि दो बल्लेबाज रन आउट हुए.

चिल्ड्रन वेलफेयर सेंटर स्कूल की पारी में आलोक पाल और वराद ने ही तीन-तीन ओवर फेंके, इसके अलावा किसी गेंदबाज को गेंदबाजी का मौका ही नहीं मिला.

Published by Yash Sharma on 22 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles