क्रिस गेल का छलका दर्द, कहा- ‘मुझे दुनिया बोझ समझती है, सम्मान नहीं मिलता’

Get Daily Updates In Email

दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक क्रिस गेल काफी समय से अपने खराब प्रदर्शन के कारण आलोचनाओं का सामना कर रहे हैं. साउथ अफ्रीका में खेली जा रही मजांसी टी-20 लीग से विदाई लेते हुए क्रिस गेल ने अपना दर्द बयां करते हुए कई बातें की हैं. गेल मजांसी सुपर लीग में जोजी स्टार्स की ओर से खेलते हैं लेकिन अब उन्होंने टी-20 लीग को अलविदा कह दिया है. हाल ही में ईएसपीएन से बात करते हुए गिल ने कहा कि, टी-20 लीग में उनके साथ अच्छा बर्ताव नहीं किया जाता और वह इससे दुखी हैं.

गेल ने कहा , मैं इस टीम के बारे में ही बात नहीं कर रहा हूं. यह ऐसा है जो मैंने पिछले कुछ सालों में फ्रैंचाइजी क्रिकेट खेलते हुए महसूस किया है. आगे अपनी बात रखते हुए गेल ने कहा “क्रिस गेल हमेशा ही बोझ रहा जब मैंने दो, तीन, चार बार रन नहीं बनाए. ऐसा लगता है कि एक खास व्यक्ति टीम पर बोझ है. और फिर आप कहा-सुनी सुनने लगते हैं. मैं किसी तरह का सम्मान हासिल करने वाला नहीं हूं. लोग यह याद नहीं रखते कि आपने उनके लिए क्या किया है. मुझे सम्मान नहीं मिलता. ”

आगे गेल ने कहा, “और मैं इस फ्रैंचाइजी के बारे में ही बात नहीं कर रहा हूं. मैं आमतौर पर बात कर रहा हूं. यहां तक कि खिलाड़ी ही नहीं मैं प्लेयर्स, मैनेजमेंट, मैनेजमेंट हेड, बोर्ड मेंबर्स की भी बात कर रहा हूं क्रिस गेल को कभी सम्मान नहीं मिलता, एक बार क्रिस गेल फेल होता है, तो उसका करियर खत्म हो जाता है. वह अच्छा नहीं है, वह बहुत खराब खिलाड़ी है और ऐसी बाकी बातें. मैं आमतौर पर इन बातों से उबर गया हूं. और ऐसी बातों की उम्मीद भी करता हूं.” रविवार को गेल ने टूर्नामेंट की आखिरी पारी खेली और 54 रन बनाए. यह इस टूर्नामेंट में उनकी आखिरी पारी रही.

Published by Lakhan Sen on 26 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles