मीरा नायर, श्यामलन समेत वो डायरेक्टर्स जिन्होंने हॉलीवुड में दिलाई भारत को पहचान

Get Daily Updates In Email

भारत के एक्टर्स हॉलीवुड फिल्मों में ज्यादातर साइड रोल के लिए ही लिए जाने जाते हैं. उनके कैरेक्टर भी स्टीरियोटिपिकल होते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कई ऐसे भारतीय निर्देशक हैं जिन्होंने हॉलीवुड में शानदार फिल्में बनाकर भारत का नाम बढ़ाया है. इन निर्देशकों का नाम उन लोगों में शामिल है जो फिल्म के मुनाफे के पीछे नहीं दौड़ते और ना ही कला और रचनात्मकता से समझौता करते हैं. तो आइए जानते हैं उन निर्देशकों के बारे में:-

एम. नाईट श्यामलन

 

भारत के एक केंद्र शासित प्रदेश पुदुच्चेरी में जन्मे श्यामलन का संबंध भारत से है. उन्होंने ‘दी सिक्सथ सेंस’, ‘अनब्रेकेबल’, ‘साइंस’ जैसी फिल्में डायरेक्ट की हैं. ‘दी सिक्सथ सेंस’ ने उन्हें हॉलीवुड के बेहतरीन निर्देशकों की कतार में खड़ा कर दिया.

विधु विनोद चोपड़ा

 

फिल्म निर्माता विधु विनोद चोपड़ा ने बॉलीवुड में कई शानदार फिल्में डायरेक्ट की हैं. लेकिन वह ‘ब्रोकन हॉर्सेज’ जैसी हॉलीवुड फिल्मों का डायरेक्शन भी कर चुके हैं. इस फिल्म को दर्शकों ने खूब पसंद किया था. 1979 में उनकी पहली और आखिरी डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट ‘एन एनकाउंटर विद फेसेज’ को ऑस्कर के लिए नामांकित किया गया था.

मीरा नायर

 

डायरेक्टर मीरा नायर अपनी बेबाक राय के लिए जानी जाती हैं. जिसकी झलक उनकी फिल्मों में भी देखने को मिलती है. मीरा ने ‘सलाम बॉम्बे’ और ‘मॉनसून वेडिंग’ जैसी फिल्में बनाई हैं. ‘सलाम बॉम्बे’ भारत की ओर से ऑस्कर के लिए बेस्ट फॉरेन लैंग्वेज कैटेगरी में भेजी गई दूसरी फिल्म थी. मीरा ने हॉलीवुड फिल्में जैसे ‘Amelia, Queen of Katwe’, ‘The Namesake’ जैसी फिल्में डायरेक्ट की हैं.

शेखर कपूर

View this post on Instagram

#repost @gulatipk “Always great hearing you think! “ And then I smiled. Of course I smiled. Someone was taking a picture. My good friend PK in Dubai. I often look at people’s pics and try and guess what’s going on in their minds. What’s going on in my mind ? What was I thinking ? Or rather, what was I not thinking ? Why do we always assume there is just one thought going on in our minds … or wherever thoughts occur. For that too is an assumption I often say this to actors .. there is never one thing in your mind. When you are in front of camera .. let your mind flow .. with all of yourself and beyond. And let the action drive your thoughts naturally .. let the thoughts come naturally to the fore. And then fall back as other thoughts come to the fore. For there is no moment in life that consists of just one thought. Like waves in an Ocean, they constantly come and go. Let that happen, and your performance will be wider, more human, more real .. #actors #acting #performing #thought #thinking #flowofthoughts #philosophyoninstagram

A post shared by @ shekharkapur on

 

शेखर कपूर का नाम एक ऐसे फिल्म निर्देशक के रूप में शुमार किया जाता है जिन्होंने ना सिर्फ बॉलीवुड में बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी खास पहचान बनाई है. उन्होंने ‘द फोर फेदर्स’, ‘एलिजाबेथ-I’ जैसी फिल्मों का निर्देशन किया है. इस फिल्म के पहले भाग को ऑस्कर्स में सात और दूसरे को दो नामांकन भी मिले. जिसमें से उन्होंने दो अवॉर्ड जीते.

गुरिंदर चड्ढा

 

गुरिंदर चड्ढा भारतीय मूल की ब्रिटिश फिल्म निर्देशक हैं. फिल्म निर्माता गुरिंदर चड्ढा अधिकतर अंतर्राष्ट्रीय कलाकारों के साथ ही फिल्में बनाती हैं. लेकिन गुरिंदर चड्ढा ने जेन ऑस्टेन के नॉवेल प्राइड एंड प्रेजुडिस पर फिल्म ‘ब्राइड एंड प्रेजुडिस’ (2004) बनाई, जिसमें ऐश्वर्या नजर आईं. इसके अलावा साल 2017 में उन्होंने ने हिस्टोरिकल ड्रामा फिल्म ‘Viceroy’s House’ बनाई. इस फ़िल्म को कई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दिखाया गया था और इसकी बहुत तारीफें हुई थी.

Published by Yash Sharma on 28 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles