धोनी ने बताए अपने करियर के बेस्ट मोमेंट्स, बताया स्टेडियम से वंदे मातरम की आवाज़ सुनने का अनुभव

Get Daily Updates In Email

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ना सिर्फ मैदान पर अपने हुनर के लिए जाने जाते हैं बल्कि मैदान से बाहर भी काफी दिलचस्प व्यक्ति हैं. प्रेस कॉन्फ्रेंस हो या फिर कोई और मौका, धोनी को माहौल बनाना और अपने फैंस को हंसने का मौका देना बखूबी आता है.

हाल ही में एक इंटरव्यू में धोनी ने अपने अब तक के करियर के दो बेस्ट मोमेंट्स के बारे में बात की है. धोनी ने इंटरव्यू में बताया कि, 2007 T20 वर्ल्ड कप की जीत के बाद हुए स्वागत को अपने करियर के बेस्ट मोमेंट्स में से एक मानते हैं. इसके अलावा उन्होंने 2011 वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल के एक खास पल को भी स्पेशल मोमेंट्स बताया.

View this post on Instagram

#captain #cool #dhoni #bharatmatrimony

A post shared by Sai (@saichithra) on

इंटरव्यू में धोनी ने कहा, ‘दो ऐसे किस्से हैं मैं जिनका ज़िक्र करना चाहूंगा. 2007 T20 वर्ल्ड कप के बाद हम भारत वापस आए और फिर हमने खुली बस में मुंबई में परेड की. इसी दौरान हम मरीन ड्राइव पर खड़े थे. हर तरफ भीड़ थी, पूरा इलाका खचाखच भरा था और लोग अपनी कारों से बाहर निकल आए थे. मुझे सबके चेहरे पर मुस्कुराहट देखकर अच्छा लगा. क्योंकि उस भीड़ में बहुत सारे ऐसे लोग भी हो सकते थे जिन्होंने शायद अपनी फ्लाइट मिस कर दी हो, शायद वह जरूरी काम के लिए जा रहे हों. इस तरीके का रिसेप्शन हमें मिला, पूरी मरीन ड्राइव इस कोने से उस कोने तक भरी हुई थी.’

अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुए धोनी ने वानखेड़े स्टेडियम में हुए 2011 के वर्ल्ड कप फाइनल का जिक्र करते हुए कहा, ‘और दूसरे वाले पर मैं 2011 के वर्ल्ड कप फाइनल का ज़िक्र करना चाहूंगा. उस मैच में जब हमें 15-20 रन ही बनाने थे तब जिस तरह से फैंस ने वानखेड़े स्टेडियम में ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाने शुरू किए. यही दो पल हैं, मैं सोचता हूं कि उन्हें दोहराना बेहद मुश्किल होगा. यह दो ऐसे पल हैं जो मेरे दिल के बेहद करीब हैं.’

Published by Lakhan Sen on 29 Nov 2019

Related Articles

Latest Articles