बंदर ना करें फसलों को बर्बाद, इसलिए शिवमोगा में किसानों ने पालतू कुत्तों को बना दिया बाघ

Get Daily Updates In Email

कर्नाटक के शिवमोगा जिले में लोग कुत्तों को पेंट करके ‘बाघ’ बना रहे हैं. उनके शरीर पर काले और पीले रंग के पेंट से धारियां बना देते हैं ताकि वे बाघ जैसे दिखें. वहां के लोग ऐसा क्यों कर रहे हैं तो इसकी सबसे बड़ी वजह हैं बंदर. जी हां, बंदरों के उत्पात से बचने के लिए लोगों ने ऐसी तरकीब निकाली है. दरअसल शिवमोगा जिले के नल्लुर गांव में लोगों ने अपने पालतू कुत्तों को पेंट कर बाघ जैसा रूप दे दिया. ऐसा इसलिए क्योंकि आए दिन बंदर उनकी फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं.

शिवमोगा जिले के किसान श्रीकांत गौड़ा ने अपनी कॉफी और सुपारी की फसल को बंदरों से बचाने के लिए अपने पालतू कुत्ते को रंग कर बाघ में बदल दिया. गौड़ा ने अपने पालतू लैब्राडोर कुत्ते पर इस तरह से पेंट कर दिया कि वह हू-ब-हू बाघ जैसा लगे. तीर्थहल्ली ताल्लुका में स्थित नल्लूर गांव के किसान श्रीकांत गौड़ा ने इस बारे में बताया कि इससे पहले उन्होंने बाघ जैसे सॉफ्ट ट्वॉयज़ का भी इस्तेमाल किया था. लेकिन उसका कोई असर नहीं पड़ा. उन्होंने बताया कि गोवा से उन्होंने बाघ की तरह लगने वाले खिलौने मंगाए थे. लेकिन कुछ दिनों बाद उनका कलर हल्का पड़ने लगा. इसके बाद बंदर फिर से फसलों को नुकसान पहुंचाने के लिए आने लगे. इसके बाद आखिर में मैंने कुत्ते को हेयर डाई से बाघ की तरह रंग दिया.

श्रीकांत अब अपने कुत्ते को टाइगर की तरह पेंट करके रोजाना सुबह-शाम खेत पर ले जाते हैं. कुत्ते को टाइगर समझकर बंदर खेत से भाग जाते हैं. ऐसे में अब फसलों को नुकसान भी नहीं होता. किसान श्रीकांत की बेटी ने बताया कि बंदरों से फसलों को बर्बादी से बचाने के लिए उसके पिता के मन में यह विचार आया. इससे पहले बंदर उनकी फसलों को बर्बाद कर देते थे. अब गांव में हर कोई उनके इस आइडिया को अपना रहा है और कुत्तों को रंगकर बाघ जैसा बना रहा है.

Published by Yash Sharma on 04 Dec 2019

Related Articles

Latest Articles