मुंबई के ताज होटल में वेटर और रूम सर्विस स्टाफ का काम करते थे बोमन, टिप बचाकर खरीदा था कैमरा

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड में अपनी कॉमेडी के लिए पसंद किए जाने वाले एक्टर बोमन ईरानी ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत ‘डरना मना है’ फिल्म से की थी. इस फिल्म में उन्होंने छोटा सा किरदार निभाया था. लेकिन बोमन को असली पहचान साल 2003 में आई फिल्म ‘मुन्ना भाई एमबीबीएस’ से मिली.

Courtesy

इस फिल्म में बोमन ईरानी का निभाया हुआ डॉ. अस्थाना का किरदार आज भी दर्शकों को पसंद आता है. इस फिल्म के बाद बोमन ने ‘थ्री इडियट्स’, ‘दोस्ताना’ और ‘पीके’ जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया. तो चलिए आज हम आपको बताते हैं बोमन ईरानी की जिंदगी से जुड़ी कुछ बातें जोकि शायद ही आप जानते होंगे –

Courtesy

बोमन ईरानी की जिंदगी काफी उतार चढाव से भरी रही है. बता दें एक्टर बनने से पहले बोमन एक साधारण वेटर का काम किया करते थे. जब बोमन 6 महीने के हुए तो उनके पिताजी इस दुनिया को छोड़कर चले गए. जिसके बाद उनकी मां ने बोमन ने पिता की नमकीन की दुकान संभाली. मीठीबाई कॉलेज से 2 साल की वेटर की पढ़ाई करने के बाद बोमन ने मुंबई के ताज होटल में वेटर और रूम सर्विस स्टाफ का काम शुरू किया. उनका बेहतरीन काम देखकर उन्हें प्रमोशन देकर फ्रेंच रूफटॉप में भेज दिया गया था. जहां उन्होंने पूरे दो सालों तक काम किया था.

Courtesy

बोमन को फोटोग्राफी का शौक था. यही वजह है कि उन्होंने होटल से मिली हुई टिप को बचाकर एक कैमरा खरीदा था. जिससे वह स्कूल के स्पोर्ट्स गेम्स की तस्वीरें लेते थे और उन्हें 20 से 30 रूपए में बेचते थे. यही नहीं उन्होंने बॉक्सिंग ओलंपिक को अपने कैमरे में कैद करने के लिए 6 महीनों तक फ्री में फोटोग्राफी भी की थी.

Courtesy

उनकी ली हुई फोटोज देखकर एसोसिएशन काफी खुश हुए और उन्हें वर्ल्ड कप का ऑफिशियल फोटोग्राफर बनाया गया. जिसके बाद साल 1981 में ट्रेनिंग लेकर उन्होंने थिएटर जॉइन कर लिया. वैसे बोमन को स्कूल टाइम से ही एक्टिंग का शौक रहा है. वह साल 2000 में पहली बार फैंटा और क्रेक जैक के एड में नज़र आए थे और अब वह बॉलीवुड के पसंदीदा कॉमेडी एक्टर्स की लिस्ट में शामिल हो चुके हैं.

Published by Chanchala Verma on 08 Dec 2019

Related Articles

Latest Articles