मिठाई की दुकान चलाते थे करण जौहर के पिता यश, मधुबाला की एक तस्वीर ने बदल दी थी जिंदगी

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड के मशहूर निर्माता-निर्देशक करण जौहर के बारे में तो आज हर कोई जानता है लेकिन उनके पिता यश जौहर के बारे में बहुत कम ही लोग जानते हैं. करण जौहर के पिता का नाम भी फिल्म इंडस्ट्री में काफी मशहूर रहा है. यश जौहर की फिल्मों की खासियत उनके विदेशी लोकेशंस रहे हैं. ‘कल हो ना हो’ (Kal Ho Na Ho), ‘कुछ कुछ होता है’ (Kuchh Kuchh Hota Hai) जैसी कई सुपरहिट फिल्मों को प्रोड्यूस कर चुके यश जौहर के बारे में ऐसी बहुत सी बातें हैं जिनसे आप अनजान होंगे. तो चलिए इस खबर में हम आपको बताते हैं यश जौहर के बारे में कुछ खास बातें-

courtesy

6 सितंबर 1929 को लाहौर में जन्मे यश जौहर की लाइफ शुरू से ही काफी संघर्ष पूर्ण रही है. बंटवारे के बाद यश जौहर का परिवार दिल्ली आकर बस गया था. ऐसा कहा जाता कि दिल्ली आकर यश जौहर के पिता ने ‘नानकिंग स्वीट्स’ (Nanking Sweets) नाम की मिठाई की दुकान शुरू की थी. इस दूकान से ही घर के सभी सदस्यों का जीवन यापन होता था. इस दुकान पर करण जौहर के पिता यानि यश जौहर हिसाब किताब का कामकाज देखते थे. हालांकि उनका मन इस काम में नहीं लगता था. दुकान पर कुछ समय काम करने के बाद यश जी मुंबई आ गए थे.

courtesy

मुंबई में यश जी आ तो गए लेकिन उन्हें यहां काम मिलना मुश्किल हो रहा था. मुंबई पहुंचकर यश टाइम्स ऑफ इंडिया के न्यूज पेपर में फोटोग्राफर बनने की कोशिश कर रहे थे. लेकिन उन्हें यहां काम मिलना मुश्किल था.

courtesy

लेकिन मधुबाला की एक तस्वीर ने उनकी लाइफ बदल दी थी. दरअसल ऐसा कहा जाता है कि मधुबाला किसी को भी अपनी तस्वीर नहीं खींचने देती थीं. लेकिन यश जौहर ने एक फिल्म की शूटिंग के दौरान मधुबाला की फोटो खींची थी. दरअसल यश जी की इंग्लिश से इम्प्रेस होकर मधुबाला ने उन्हें फोटो खींचने की अनुमति दे दी थी. यश जी ने मधुबाला की यह फोटो टाइम्स ऑफ इंडिया के ऑफिस में दिखाई तो उन्हें आसानी से नौकरी मिल गई. जानकारी के लिए आपको बता दें कि बतौर प्रोडूसर यश जौहर ने ‘दोस्ताना’ फिल्म बनाई थी जिसमें अमिताभ बच्चन और शत्रुघ्न सिन्हा दिखाई दिए थे. फिल्म प्रोड्यूस करने के साथ-साथ इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट का बिजनेस भी इन्होंने किया था.

Published by Lakhan Sen on 10 Dec 2019

Related Articles

Latest Articles