श्रीदेवी: द ईटर्नल स्क्रीन गॉडेस पुस्तक के विमोचन के दौरान करण ने शेयर की श्रीदेवी की बातें

Get Daily Updates In Email

श्रीदेवी बॉलीवुड के साथ ही साउथ फिल्म इंडस्ट्री की भी नामी एक्ट्रेस हैं. हाल ही में ‘श्रीदेवी : द ईटर्नल स्क्रीन गॉडेस’ नाम की पुस्तक का विमोचन किया गया. जिसमें उनकी जिंदगी से जुड़ी कई बातें लिखी हैं. इस पुस्तक का विमोचन फिल्म मेकर करण जौहर के हाथों हुआ. इस किताब को सत्यार्थ नायक ने लिखा है.

पुस्तक के इस विमोचन के समय करण जौहर ने कई बातें कहीं. करण जौहर ने बताया कि साउथ बॉम्बे में पले-बढ़े होने के बावजूद बचपन से ही वे हिंदी व श्रीदेवी की फिल्मों खूब देखा करते थे और इस तरह से सिनेमा के प्रति उनकी दीवानगी में श्रीदेवी की बड़ी भूमिका रही है.’

आगे उन्होंने कहा- ‘मैंने कभी भी इसकी कल्पना नहीं की… मेरा बचपन उन्हें चाहने, देखने और करीब से महसूस करने में इस कदर समर्पित था कि मैं उन्हें निर्देशित करते वक्त मैं पूरी तरह से अपनी वस्तुनिष्ठता खो बैठता. मैं उन्हें शायद इस कदर कुछ ज्यादा करने के लिए दे देता, जो उनके किरदार की आवश्यकता से कहीं अधिक होता और नतीजे के तौर पर शायद इसका फिल्म पर काफी बुरा असर होता. मैं इस बात को लेकर कतई आश्वस्त नहीं रहा कि मैं उनके लिए एक बढ़िया निर्देशित साबित होता क्योंकि मैं उनका बहुत बड़ा फैन रहा हूं. मुझे लगता है कि निर्देशक को कहीं न कहीं वस्तुनिष्ठ होने की जरूरत होती है. मुझे इस बात की खुशी है कि मुझे कभी भी श्रीदेवी को डायरेक्ट करने का मौका नहीं मिला, वर्ना वो फिल्म यकीनन एक नाकाम फिल्म साबित होती, जिसे वो कतई डिजर्व नहीं करती थीं.’

आगे करण ने कहा कि वे श्रीदेवी के सिनेमाई व्यक्तित्व से वे हमेशा से ही अभिभूत रहे थे और एक निर्माता के तौर पर जब फिल्म ‘कलंक’ में श्रीदेवी के साथ काम करने का मौका आया, तो फिल्म से जुड़ी सारी तैयारियां हो जाने के बाद महज चंद महीने पहले ही श्रीदेवी चल बसीं.

अपनी बात पूरी करते हुए करण ने कहा – ‘श्रीदेवी के साथ कभी काम करना मेरा एक बहुत बड़ा सपना था… उनके गुजर जाने के बाद कई महीनों तक हमने ‘कलंक’ में उनकी जगह पर किसी और को लेने के बारे में नहीं सोचा. उसके बाद हमने माधुरी दीक्षित को इस रोल के लिए अप्रोच किया, जिन्होंने बहुत ही विनम्र तरीके से इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया… यह श्रीदेवी को ट्रिब्यूट देने का माधुरी का अपना तरीका था’.

Published by Chanchala Verma on 23 Dec 2019

Related Articles

Latest Articles