रोहित शर्मा की कामयाबी के पीछे धोनी को बड़ी वजह मानते हैं सहवाग, बताया उनके खेल का नजरिया

Get Daily Updates In Email

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी सहवाज ने हाल ही में टीम इंडिया के लिए एक बयान  दिया है. जिसकी वजह से वह सुर्ख़ियों में आ गए हैं. सहवाग ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा- ‘अगर लोकेश राहुल पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए चार बार विफल रहता है तो मौजूदा भारतीय टीम प्रबंधन (Indian Team Management) उनका स्थान बदलने की कोशिश करेगा. हालांकि धोनी के साथ ऐसा नहीं होता था. वह जानते थे कि खिलाड़ियों का ऐसे हालात में समर्थन करना कितना अहम होता है, क्योंकि वह खुद इस मुश्किल दौर से गुजरे थे.’

इस दौरान सहवाग से जब पूछा गया था कि क्‍या अब टीम में खिलाड़ियों को लेकर धैर्य कम हो गया है. तो इस बात का जवाब देते हुए सहवाग ने कहा – ‘जब एमएस धोनी कप्तान थे तो बल्लेबाजी इकाई में हर खिलाड़ी के स्थान के संबंध में काफी स्पष्टता रहती थी. वह प्रतिभा के पारखी थे और उसने उन खिलाड़ियों को पहचाना जो भारतीय क्रिकेट को आगे लेकर गए. उन्‍हें पता था कि ये उनके ओपनर हैं, ये उनके लिए मिडिल ऑर्डर में खेलेंगे. वे खुद नंबर 5 पर आते थे फिर केदार जाधव नंबर 6 पर और फिर हार्दिक पंड्या या रवींद्र जडेजा. तो वे नीचे आने वाले बल्‍लेबाजों को बैक करते थे. अगर केएल राहुल 5वें नंबर पर अगर लगातार 4 पारियों में नहीं चलते हैं तो विराट कोहली उन्‍हें बदलते हुए नजर आएंगे. ऐसा एमएस धोनी के समय नहीं होता था. वे (धोनी) खुद वहां पर खेला करते थे.’

इसके अलावा सहवाग ने रोहित शर्मा की कामयाबी के पीछे की एक बड़ी वजह महेंद्र सिंह धोनी को बताया. सहवाग ने कहा कि- ‘पहले रोहित मिडिल ऑर्डर में बल्‍लेबाजी करते थे. यहां पर खेलना मुश्किल काम होता है. ऐसे में उनकी औसत और रन कम थे. नंबर 4,5 और 6 पर खेलने के लिए बल्‍लेबाजी मुश्किल होता है. पता नहीं होता है कि बल्‍लेबाजी कब आएगी और कितने ओवर मिलेंगे, लेकिन ओपनिंग करने पर चौके-छक्‍के लगाने की काबिलियत बढ़ जाती है. ऐसे में रोहित को ऊपर आने का फायदा मिला.’

याद दिला दें कि साल 2013 में धोनी ने चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान रोहित शर्मा को मिडिल ऑर्डर के बजाए ओपनर के रूप में प्रमोट किया था.

Published by Chanchala Verma on 21 Jan 2020

Related Articles

Latest Articles