फिर पीने लायक हुआ गंगा नदी का पानी, प्रदुषण कम होने के कारण दिखाई देने लगी सतह

Get Daily Updates In Email

पूरे देश में इन दोनों वायरस ने कहर बरसा रखा है. जिससे सभी लोग परेशान हैं. इस स्थिति से निपटने के लिए सभी को घरों में रहने की सलाह दी गई है. जिसका काफी सख्ती के साथ पालन भी किया जा रहा है. पूरे भारत की ट्रांसपोर्ट बन हो चुका है. ना तो कोई बस चल रही है, ना ही ट्रेन और कोई प्लेन. लोग अब सिर्फ जरूरी चीज़ें खरीदने के लिए बाहर आ रहे हैं. ऐसे में पर्यावरण का स्तर काफी सुधरता नजर आ रहा है. यही वजह है कि अब हरिद्वार में गंगा नदी का पानी एकदम साफ हो चुका है. यही नहीं इस नदी से नीचे जमीन की सतह भी साफ दिखाई दे रही है. इसके साथ ही अब गंगा का पानी पीने लायक भी हो चुका है.

लॉकडाउन होने की वजह से कोई भी कहीं नहीं जा पा रहा है. जिसकी वजह से ही यह चमत्कार देखने को मिला है. एक्सपर्ट्स के हिसाब से इस समय गंगा के पानी में 40 से 50 फीसदी तक सुधार देखने को मिला है. आपको यह भी याद दिला दें कि सालों से गंगा को साफ करने की कोशिश की जा रही है. जिसके लिए अब तक कई योजनाएं बनाई जा चुकी हैं. जिसके लिए काफी पैसे भी खर्च किए जा चुके हैं लेकिन ऐसा रिजल्ट अब तक देखने को नहीं मिला है. जैसा इन दिनों में देखने को मिल रहा है.

हरिद्वार के जिलाधिकारी सी. रविशंकर ने 20 मार्च से हरिद्वार में हर की पैड़ी पर ऐतिहासिक गंगा आरती में लोगों का आना बंद करवा दिया था हालांकि लोगों की आस्था को ध्यान में रखते हुए गंगा की लाइव आरती का प्रसारण किया गया था.

View this post on Instagram

With people staying indoors and industries shut, the Ganga river, flowing through Varanasi and Haridwar, has seen a significant improvement in water quality during the coronavirus lockdown. . . . On March 24, Prime Minister Narendra Modi announced a nationwide lockdown in order to contain the spread of the novel coronavirus. Ever since, industries which regularly discharge effluents into the Ganga have been shut. . . . And now scientists have claimed that the water quality has seen a remarkable improvement and is even fit for drinking! . . . Read the full story on News18.com. . . . #coronavirus #coronavirusindia #coronaviruslockdown #ganga #gangariver #gangapollution #haridwar #varanasi

A post shared by LOCKDOWN EFFECT (@pandemic_corona20) on

साथ ही कम हुआ है वायु प्रदुषण –

सरकार द्वारा संचालित सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के हिसाब से वायरस प्रकोप की वजह से दिल्ली में पीएम 2.5 में 30 फीसद की गिरावट आई है. अहमदाबाद और पुणे में इसमें 15 फीसद की कमी आई है. इसके साथ ही नाइट्रोजन ऑक्साइड (एनओएक्स) प्रदूषण का स्तर भी कम हुआ है.जो ज्यादा वाहनों के चलने से होता है. पुणे में एनओएक्स प्रदूषण में 43प्रतिशत, मुंबई में 38 प्रतिशत और अहमदाबाद में 50 प्रतिशत कम हुआ है.

Published by Chanchala Verma on 13 Apr 2020

Related Articles

Latest Articles