‘कॉकटेल’ को लेकर डायना ने शेयर किया अपनी को-स्टार दीपिका के साथ काम करने का अनुभव

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड एक्ट्रेस डायना पेंटी का फ़िल्मी सफर कुछ खास तो नहीं रहा लेकिन उन्हें अपनी फिल्म ‘कॉकटेल’ के लिए खूब पसंद किया गया था. इस फिल्म में डायना के साथ दीपिका पादुकोण और सैफ अली खान लीड रोल में नजर आए थे. फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी खासी कमाई भी की थी. बता दें इस फिल्म की रिलीज को 8 साल को पूरे हो चुके हैं. ऐसे में डायना पेंटी ने अपनी फिल्म और अपनी को-स्टार दीपिका पादुकोण को लेकर कुछ बातें कही हैं. जिसकी वजह से एक्ट्रेस सुर्ख़ियों में आ गई हैं.

दीपिका के साथ काम करने के एक्सपीरियंस को साझा करते हुए डायना ने कहा – ‘दीपिका पादुकोण के साथ मेरी पहली फिल्म थी. मेरी पहली फिल्म में मेरे पहले सह-अभिनेता के रूप में, दीपिका ने काफी प्रभाव पैदा किया. मेरे डर को दूर किया और मुझे एक ऐसी दुनिया में एक यादगार शिक्षा दी जिसके बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं थी. यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि मैं युवा था, एक पेशेवर मॉडल, जो अचानक एक नए ब्रह्मांड में आ गई थी जो इतने सारे अज्ञात लोगों से भरा हुआ था. दीपिका तब तक बहुत सी फिल्में कर चुकी थीं. एक उभरता स्टार लेकिन फिर भी वह बेहद नर्म दिल इंसान थी और अपने चेहरे पर एक मुस्कान के साथ हमेशा स्वागत किया और जिससे मुझे इस क्रू का हिस्सा होना का अहसास हुआ.’

आगे डायना ने कहा – ‘मुझे याद है कि शूटिंग के पहले दिन, जो लंदन में था. मैं अपने होटल के कमरे में अकेली बैठी थी. जब मुझे दीपिका का एक मैसेज मिला. जिसमें उन्होंने मुझे रात के खाने में शामिल होने के लिए कहा. जब मैं उनसे उस शाम मिली. तो मुझे महसूस हुआ कि सैफ, होमी, डिनो और कुछ अन्य लोग वहां थे. उन्होंने मुझे शामिल करने की पूरी कोशिश की और हम जल्द ही एक ही जगह पर 2 डीपी बन गए थे. मैंने उनसे भी सीखा – बेहद प्रोफेशनल, दीपिका का अनुशासन अनुकरणीय था. उन्हें शूटिंग में कभी देर नहीं होती थी और कोई फर्क नहीं पड़ता की हम कितने बजे पैक अप कर रहे हैं. वह हमेशा कई अन्य चीजों के बीच जिम जाना नहीं भूलती थीं. मुझे यह भी याद है कि उन्होंने कैसे खुद को अविश्वसनीय वेरोनिका में बदल लिया. एक ऐसा किरदार जो व्यक्तिगत रूप से उनके जैसा बिल्कुल भी नहीं था. सचमुच मेरे होश उड़ गए थे.’

आगे डायना ने कहा – ‘मैं अभी भी दंग रह जाती हूं. जब मैं उन्हें स्क्रीन पर कई यादगार किरदारों में ढलते हुए देखती हूं और कैसे वह व्यक्तिगत और पेशेवर रूप से इतनी बहादुर शख्सियत है. उनकी मुस्कान आज भी उतनी ही नरम है और मेरे लिए वह हमेशा मेरी मीरा की वेरोनिका रहेंगी.’

Published by Chanchala Verma on 14 Jul 2020

Related Articles

Latest Articles