खत्म होगा सालों का इंतजार, राम मन्दिर स्थापना के भूमिपूजन के लिए रवाना हुए मोदी

Get Daily Updates In Email

लोगों का सालों का इंतजार आज ख़त्म होने वाला है. सालों से अयोध्या राम जन्मभूमि और राम मंदिर स्थापित करने की जो लड़ाई चल रही थी वह आखिरकार खत्म हो चुकी है. आज मंदिर निर्माण कार्य का भूमि पूजन किया जाएगा. कई सालों बाद राम लला का मंदिर अयोध्या में बनाने की नींव आज डलने वाली है. भगवान राम का मंदिर बहुत ही आलिशान बनवाया जाएगा. जिसका एक नमूना भी दिखाया गया है कि आखिर किस तरह से मंदिर को बनाया जाएगा. यह मंदिर 3 मंजिला होगा. आज के तय कार्यक्रमों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल होने वाले हैं. जिसके लिए वह अयोध्या रवाना भी हो चुके हैं. मोदीभूमि पूजन करने वाले हैं. जिसके लिए वह धोती कुर्ता पहनकर निकले हैं.

View this post on Instagram

जय श्री राम… Shri Ram Janmbhoomi Mandir will be a unique example of Indian architecture. Shri Ram Mandir will be the manifestation of divinity and grandeur. Some pictures of the proposed structure. . . #RamMandir __________________________________________ __________________________________________ #jaishriram #jaishreeram #shriram #shreeram #ayodhya #ayodhyarammandir #insta_maharashtra #ramayan #ramayana #mymumbai #hindu #जयश्रीराम #hinduism #indianphotography #maharashtra_ig #indiapictures #_coi #_soi #instagram #yoga #photographers_of_india #goan #socialmediamarketingfirm #digitalmarketing #socialmedia #digitalmarketingservices #socialmediamarketingtip

A post shared by Social Media Marketing Tips (@digitalkhare) on

इस तरह आयोजित हैं कार्यक्रम –

अयोध्या में मीलों पहले ही राजमार्गों पर होर्डिंग्स लग चुके हैं. जिसमें भगवान राम के साथ ही योगी आदित्य नाथ, नरेंद्र मोदी के होर्डिंग्स लगे हैं. 12:40 पर भूमिपूजन का कार्यक्रम किया जाएगा. पूजा स्थल और अन्य कार्यक्रमों की जगह पर सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा गया है. इसके साथ ही बड़े पैमाने पर वेदर प्रूफ टेंट भी लगे हुए हैं.

View this post on Instagram

🕉️त्वं त्रयाणां हि लोकानामादिकर्ता स्वयंप्रभुः। सिद्धानामपि साध्यानामाश्रयश्चासि पूर्वजः॥🕉️ "तुम ही तीनों लोकों के आदिकर्ता और स्वयंभू प्रभु हो। तुम ही सिद्धों और साध्यों के आश्रयदाता और पूर्वज हो।" एक बार चेक कीजिए – @jai_jaishriram #jaishriram #jaishriram🙏 #shiva #omnamahshivaya #loadshiva #jaimahakal #harharmahadev #mahadev #shriram #jaibagrangbali #jaishrimahakaal #jaimatadi #navratri #jaimatadi❤ #ramayana #ramayanam #firstmonday #harharmahadevॐ #mahadev🙏 #ayodhya #ayodhyaverdict #rammandir #jaishreeram

A post shared by JAI SHRI RAM (@jai_jaishriram) on

शिलान्यास के लिए 12:15:05 से 12:15:38 बजे के का शुभ मुहूर्त है. जिसमें 33 सेकंड सबसे महत्वपूर्ण हैं. जिसमें  मोदी राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे. राम मंदिर में पूजन के लिए 175 मेहमानों को देखने के लिए बड़ी स्क्रीन्स भी लगाई गई हैं. मोदी के अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत, उमा भारती, आनंदी बेन पटेल, योगी आदित्यनाथ, बाबा रामदेव और साध्वी ऋतम्भरा दीदी मां सहित कई मेहमान अयोध्या में दिखाई देने वाले हैं. इनके अलावा लालकृष्ण आडवाणी विर्चुअल तरीके से इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने वाले हैं.

View this post on Instagram

🕉️त्वं त्रयाणां हि लोकानामादिकर्ता स्वयंप्रभुः। सिद्धानामपि साध्यानामाश्रयश्चासि पूर्वजः॥🕉️ "तुम ही तीनों लोकों के आदिकर्ता और स्वयंभू प्रभु हो। तुम ही सिद्धों और साध्यों के आश्रयदाता और पूर्वज हो।" एक बार चेक कीजिए – @jai_jaishriram #jaishriram #jaishriram🙏 #shiva #omnamahshivaya #loadshiva #jaimahakal #harharmahadev #mahadev #shriram #jaibagrangbali #jaishrimahakaal #jaimatadi #navratri #jaimatadi❤ #ramayana #ramayanam #firstmonday #harharmahadevॐ #mahadev🙏 #ayodhya #ayodhyaverdict #rammandir #jaishreeram

A post shared by JAI SHRI RAM (@jai_jaishriram) on

80 के दशक से मंदिर आंदोलन के बड़ा चेहरे रहे ये तीनों वरिष्ठ लोग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भूमि पूजन कार्यक्रम से जुड़ेंगे. इनके अलावा उमा भारती कार्यक्रम के दौरान सरयू घाट पर रहेंगी. उन्होंने कहा, ‘आडवाणी जैसे लोग आज खुश हैं. वो वरिष्ठ हैं. उन्होंने एक समय वाजपेयी के लिए कुर्सी तक त्याग दी थी. मैं भी बहुत प्रसन्न हूं. मैं आठ साल की थी जब मंदिर आंदोलन से जुड़ी. किसी को यह नहीं सोचना चाहिए कि राम या राम मंदिर किसी समूह या लोगों के किसी खास समूह से जुड़ा हुआ है. ऐसा सोचना गलत होगा.’ अयोध्या की पूरी तैयारियां योगी आदित्यनाथ खुद अपनी देख-रेख में कर रहे हैं.

Published by Chanchala Verma on 05 Aug 2020

Related Articles

Latest Articles