अंकिता लोखंडे ने शेयर किया इंस्पायरिंग पोस्ट, लिखा- ‘खुद की आवाज को सुन रही हूं’

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को इस दुनिया से गए 1 महीने का समय हो चुका है. जिसके बाद से ही लगातार इस मामले में कई नए खुलासे हो रहे हैं. सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने भी ऐसे ही कई खुलासे एक्टर के बारे में किए हैं. एक्ट्रेस ने यह भी कहा था कि सुशांत कभी सुसाइड नहीं कर सकते हैं.

जिसके बाद अब एक्ट्रेस ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से इंस्पायरिंग पोस्ट शेयर की है. जिसकी वजह से वह सुर्ख़ियों में आ गई हैं. अंकिता के पोस्ट में लिखा है- ‘इस दुनिया पर बिताए जीवन में वो मुझसे लाखों चीजें चाहते थे और मैं हर एक के आगे झुका और कहा- मेरे लिए नहीं. मैं पुजारियों के रास्ते पर हूं, ईश्वरीय जन्म हूं और मैं यूं ही बह नहीं जाऊंगा. मैंने अपने दिल के सफर का अनुसरण किया और अपनी रूह के गीतों का. मुझे खरीदा नहीं जा सकता. मुझे बेचा नहीं जा सकता.’

View this post on Instagram

#listeningtomyhigherself

A post shared by Ankita Lokhande (@lokhandeankita) on

इस पोस्ट को शेयर करते हुए अंकिता ने कैप्शन में लिखा है- ‘खुद की आवाज को सुन रही हूं.’ बता दें सुशांत के जाने के बाद अंकिता ने पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि – ‘सुशांत ऐसे इंसान नहीं थे जो आत्महत्या करेंगे. जब हम साथ थे तो हमने कठिन परिस्थितियां भी देखी हैं. वह एक खुश मिजाज इंसान थे. मैं उन्हें जितना जानती हूं, वह एक डिप्रेस्ड इंसान नहीं थे. मैं जिंदगी में कभी सुशांत जैसा इंसान नहीं देखा, जो अपने सपने खुद लिखता था. उनके पास डायरी थी, उनके 5 साल के प्लान थे, जिसे वह पूरा करना चाहते थे. 5 साल बाद उन्होंने सपनों को पूरा भी किया. जब डिप्रेशन जैसा शब्द उनके लिए प्रयोग होता है तो यह दिल तोड़ने वाला होता है. वह उदास या गुस्सा हो सकते थे, लेकिन डिप्रेशन काफी बड़ा शब्द है.’

आगे अंकिता ने कहा था- ‘जिस सुशांत को मैं जानती थी. वह एक छोटे शहर से आए थे. उन्होंने अपने दम पर खुद को यहां स्थापित किया था. उन्होंने मुझे एक्टिंग के साथ-साथ कई चीजें सिखाईं. किसी को भी पता है कि सुशांत कौन और क्या थे. हर कोई लिख रहा है कि वह कितने डिप्रेस्ड थे. यह सब पढ़कर दुख होता है. वह छोटी चीजों में खुशी ढूंढ लेते थे. वो खेती करना चाहते थे. उन्होंने मुझसे कहा था कि अगर कुछ नहीं हुआ तो मैं अपनी शॉर्ट फिल्म बना लुंगा. मुझे नहीं मालूम कि स्थिति क्या थी, लेकिन मैं यह दोहराउंगी कि वह डिप्रेस नहीं थे. मैं उन्हें लोगों के दिमाग में एक डिप्रेस व्यक्ति बने नहीं रहने दे सकती. वह हीरो थे और एक प्रेरणा थे.’

Published by Chanchala Verma on 05 Aug 2020

Related Articles

Latest Articles