रिव्यू : ‘सड़क 2’ को यूजर्स बता रहे सबसे खराब मूवी, IMDb रेटिंग में भी पिछड़ी फिल्म

Get Daily Updates In Email

महेश भट्ट की फिल्म सड़क 2 डिजनी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हो गई है. फिल्म रिलीज होने के साथ ही सड़क 2 को काफी खराब रेटिंग मिल रही है. सोशल मीडिया पर फिल्म को देखकर यूजर्स सोशल मीडिया पर अपने रिएक्शन दे रहे हैं. हालांकि ज्यादातर लोग ने फिल्म को नेगेटिव कमेंट्स दिए हैं. कुछ लोगों का कहना है कि फिल्म देखकर अपना समय बर्बाद मत करना.

वेबसाइट IMDb में ‘सड़क 2’ को 10 में से 1.1 रेटिंग मिली है. इससे पता चलता है कि फिल्म को दर्शक बिल्कुल पसंद नहीं कर रहे हैं. कोई फिल्म को फ्लॉप कह रहा है तो कोई कह रहा है कि इस फिल्म को देखकर समय बर्बाद करने जैसा है. ‘सड़क 2’ के जरिए महेश भट्ट ने 21 साल बाद डायरेक्शन में वापसी की है. ये फिल्म साल 1991 में रिलीज हुई ब्लॉकबस्टर ‘सड़क’ का रीमेक है. फिल्म में आलिया भट्ट, पूजा भट्ट, संजय दत्त और आदित्य रॉय कपूर लीड रोल में हैं.

बता दें कि फिल्म के ट्रेलर और गानों को भी अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला था. इतना ही नहीं ‘सड़क 2’ का ट्रेलर यूट्यूब पर सबसे ज्यादा डिसलाइक किया जाने वाला दूसरा वीडियो है. दरअसल सुशांत सिंह राजपूत के मामले में लोगों ने सोशल मीडिया पर भट्ट परिवार को निशाना बनाया है. सोशल मीडिया पर ‘सड़क 2’ को नेपोटिज्म प्रोडक्ट बताया गया है.

पिछली सदी का आख़िरी साल और इसके बाद महेश भट्ट ने डायरेक्टर की कुर्सी पर बैठने के बजाए लेखक की कुर्सी-मेज पकड़ ली. और फिर अक्षय कुमार की संघर्ष से लेकर इमरान हाशमी की हमारी अधूरी कहानी तक इसी कुर्सी-मेज पर डटे रहे.

1999 में भट्ट साहब ने जब निर्देशन से संन्यास लिया था तो उनके पीछे कई क्लासिक और कल्ट फ़िल्मों की विरासत थी, जिनकी सार्थकता आज भी बनी हुई है। ‘अर्थ’, ‘सारांश’, ‘नाम’, ‘डैडी’, ‘आशिक़ी’, ‘दिल है कि मानता नहीं’, ‘ज़ख़्म’, ‘नाजायज़’. इनमें एक नाम 1991 की ‘सड़क’ भी है, जिसका पार्ट 2 भट्ट साहब 2020 में लेकर आये हैं और जिसके ज़रिए निर्देशन में अपने वनवास को ख़त्म किया है. मगर, महेश भट्ट की शानदार विरासत के मद्देनज़र यह वापसी बेहद निराश और उदास करने वाली है.

Published by Yash Sharma on 29 Aug 2020

Related Articles

Latest Articles