डूबते करियर की वजह से घर आकर रोते थे आमिर, बेनेट यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स से की बात

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड एक्टर आमिर खान फिल्मों के चुनाव को लेकर काफी सजग रहते हैं. एक्टर साल में सिर्फ 1 ही फिल्म करते हैं लेकिन इसे निभाने में वह अपनी पूरी जान डाल देते हैं. इस वजह से आमिर खान इंडस्ट्री के मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहे जाते हैं. फ़िलहाल एक्टर अपनी आने वाली फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की शूटिंग में बिजी हैं. जिसमें आमिर खान का लुक काफी अलग और इंट्रस्टिंग दिखाई दे रहा है. आमिर खान बॉलीवुड के सफल और टॉप एक्टर्स में शुमार हैं. लेकिन आमिर खान का अब तक का सफर काफी कठिनाइयों से भरा रहा है. जिसे पार कर आज आमिर खान को सक्सेस मिली है.

हाल ही में आमिर खान ने बेनेट यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों को संबोधित किया और साथ ही अपने करियर से जुड़ी कई बातें भी बताईं. आमिर ने अपने बारे में बताया कि – ‘मैं इतना दुखी था कि मैं घर आकर रोता था. मेरा करियर भी डूब रहा था.’

अपने करियर के शुरूआती दिनों को याद करते हुए आमिर ने कहा – ‘कयामत से कयामत तक के बाद मैंने कहानियों के आधार पर करीब 8 से 9 फिल्में साइन कीं और उस समय सभी डायरेक्टर्स मेरे लिए नए और अंजान थे. ये फिल्में लगातार शुरू होने लगीं और मीडिया द्वारा मुझे कहा जाता था कि इसकी एक ही फिल्म चलेगी बाकि नहीं. मेरा करियर डूब रहा था. ऐसा लग रहा था मानो मैं कितनी जल्दी में हूं. मैं बहुत दुखी था. मैं अकसर उस समय घर आकर रोया करता था.’

आगे आमिर खान ने बताया कि जिन लोगों के साथ वह काम करना चाहते थे, वह उनके साथ काम करने में कोई दिलचस्पी नहीं ले रहे थे. आमिर ने बताया – ‘कयामत से कयामत तक के 2 सालों बाद तक, मैंने अपनी जिंदगी की सबसे कमजोर अवस्था महसूस की है. जो फिल्में मैंने साइन की थीं, वह लगातार रिलीज होती और फ्लॉप होती जा रही थीं. ऐसे में मुझे लगता था कि अब मैं खत्म हूं. यहां अब मेरे जीने का कोई रास्ता नहीं बचा है, क्योंकि मैंने जानता था कि मेरी बाकि अनरिलीज फिल्में कितनी खराब हैं.’

View this post on Instagram

How about Satyameva Jayate 2 ?

A post shared by aamirkhanfc (@aamirkhanfc) on

आगे आमिर खान ने बताया कि उसी समय मैंने यह सोच लिया था कि करियर भले ही खत्म हो जाए, लेकिन जब तक मुझे अच्छा डायरेक्टर, अच्छी स्क्रिप्ट और अच्छा प्रोड्यूसर नहीं मिलेगा, मैं फिल्में साइन नहीं करूंगा.

Published by Chanchala Verma on 06 Oct 2020

Related Articles

Latest Articles