IPl-13 : चेन्नई ने जीत के साथ टूर्नामेंट से ली विदाई, वहीं पंजाब टीम की भी बढ़ी मुश्किलें

Get Daily Updates In Email

चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में रविवार को शेख जाएद स्टेडियम में अपना आखिरी मैच पंजाब के साथ खेला. चेन्नई पहले ही प्लेऑफ रेस से पहले ही बाहर हो चुकी थी. चेन्नई तो प्ले आफ से बाहर हो गई थी लेकिन पंजाब को प्ले आफ में जगह बनाने के लिए आज का मैच जीतना जरूरी था. वहीं चेन्नई के लिए यह मैच प्रतिष्ठा से जुड़ा था.

महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. चेन्नई सुपर किंग्स संभावित प्लेइंग इलेवन में ऋतुराज गायकवाड़, फाफ डुप्लेसिस, अंबाती रायुडू, एमएस धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), एन जगदीसन, रविंद्र जडेजा, सैम करन, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, इमरान ताहिर और लुंगी एन्गिडी को शामिल किया गया.

वहीं किंग्स इलेवन पंजाब में मयंक अग्रवाल, केएल राहुल (कप्तान और विकेटकीपर), क्रिस गेल, निकोलस पूरन, मनदीप सिंह, दीपक हुड्डा,  जेम्स नीशम, क्रिस जॉर्डन, मुरुगन अश्विन,  मोहम्मद शमी और रवि बिश्नोई को शामिल किया गया. चेन्नई और पंजाब के बीच खेले गए मैच में पंजाब ने 20 ओवर में छह विकेट्स के नुकसान पर 153 रन बनाए और चेन्नई को जीत के लिए 154 रन का लक्ष्य दिया.

पंजाब ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 153 रनों का स्कोर बनाया. टीम के लिए दीपक हुड्डा ने सर्वाधिक 62 रनों की नाबाद पारी खेली. उनके अलावा कप्तान लोकेश राहुल ने 29 और मयंक अग्रवाल ने 26 रनों का योगदान दिया. चेन्नई के लिए लुंगी एनगिडी ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए. उनके अलावा शार्दुल ठाकुर, इमरान ताहिर और रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिया.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम चेन्नई की शुरुआत अच्छी रही. लेकिन चेन्नई की टीम को 84 रनों पर पहला झटका लगा. चेन्नई सुपर किंग्स को पहला झटका फाफ डूप्लेसिस के रूप में लगा. डूप्लेसिस 34 गेंदों पर 48 रन बनाकर आउट हो गए. अपनी इस पारी के दौरान उन्होंने चार चौके और 2 छक्के लगाए. उसके बाद क्रीज पर आए रायडू ने गायकवाड़ का पूरा साथ दिया. दोनों ने टीम को जीत की मंजिल तक पहुंचाया.

गायकवाड़ ने अपनी पारी में अर्धशतक पूरा करते हुए 62 रन बनाए तो वहीं रायडू ने 30 रनों की पारी खेली. और इस तरीके से चेन्नई ने टूर्नामेंट में अपना आखिरी मैच अपने नाम कर लिया. वहीं दूसरी ओर पंजाब की टूर्नामेंट में बने रहने की मुश्किले और बढ़ गई है.

 

Published by Yash Sharma on 01 Nov 2020

Related Articles

Latest Articles