देश में मनाया जा रहा है आर्मी डे, 15 जनवरी को आर्मी डे मनाने के हैं 2 मुख्य कारण

Get Daily Updates In Email

15 अगस्त और 26 जनवरी की तरह ही 15 जनवरी का दिन भी हमारे लिए बहुत ही खास होता है. बता दें आज यानी 15 जनवरी है और यह दिन भारतीय सेना के लिए बहुत ही खास है. इस फिल्म को भारतीय थल सेना आर्मी डे के रूप में मनाती है. बता दें भारतीय सेना आज अपना 73वां स्थापना दिवस मना रही है. इस खास मौके पर देश की राजधानी दिल्ली में कैंट स्थित करियप्पा ग्राउंड में सेना दिवस परेड का आयोजन भी किया गया. यही नहीं थलसेना के प्रमुख जनरल एमएम नरवणे परेड ने सलामी ली और सैनिकों को संबोधित भी किया.

इन सब बातों के साथ ही आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर किस वजह से आज ही के दिन आर्मी डे मनाया जाता है.

बता दें आज के दिन आर्मी डे मनाने के दो बड़े कारण हैं. पहला कारण यह है कि आज ही के दिन साल 1949 में भारतीय सेना पूरी तरह ब्रिटिश थल सेना से मुक्त हुई थी. इसके अलावा दूसरा कारण यह है कि इसी दिन जनरल केएम करियप्पा को भारतीय थल सेना का कमांडर इन चीफ बनाया गया था. जिसके बाद लेफ्टिनेंट करियप्पा लोकतांत्रिक भारत के पहले सेना प्रमुख बने थे. केएम करियप्पा ‘किप्पर’ नाम से पॉपुलर हुए थे.

इस खास दिन पर पूरे देश में सेना के वीर जवानों के अदम्य साहस, शहीद जवानों की शहादत को याद किया जाता है. इसके साथ ही देशभर में सेना की अलग-अलग रेजिमेंट में परेड के साथ ही झांकियां भी निकाली जाती हैं. आज के दिन फील्ड मार्शल के एम करियप्पा परेड ग्राउंड पर सेना दिवस समारोह के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है. इसके साथ ही आज के दिन दिल्ली के इंडिया गेट पर बनी अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि भी दी जाती है. इसके साथ इन शहीदों की विधवाओं को या उनके परिवारवालों को सेना मेडल और अन्य पुरस्कारों से सम्मानित भी किया जाता है.

बता दें भारतीय आर्मी का गठन साल 1776 में ईस्ट इंडिया कंपनी ने कोलकाता में किया था. आज भारतीय आर्मी के 53 कैंटोनमेंट और 9 आर्मी बेस हैं.

Published by Chanchala Verma on 15 Jan 2021

Related Articles

Latest Articles