एक्सीडेंट होने के बाद भी कार ओनर ने दिया कार कंपनी को धन्यवाद, फिर से खरीदी उसी मॉडल की गाड़ी

Get Daily Updates In Email

कोई भी कार मालिक कार कार खरीदने से पहले उसकी गुणवत्ता और सुरक्षा को लेकर भी उचित परामर्श लेता है. भारत में इन दिनों खरीदारों के बीच कार सुरक्षा को लेकर जागरूकता लगातार बढ़ रही है. वहीं भारत में टाटा मोटर्स और महिंद्रा एंड महिंद्रा वाहन सुरक्षा मानकों के मामले में बाजार में नंबर वन पर शामिल है. उनके नए मॉडल ग्लोबल एनसीएपी क्रैश टेस्ट में 5 और 4 स्टार सुरक्षा रेटिंग देते हैं.

कुछ दिनों पहले ही कई कार मालिकों ने आगे आकर कार सुरक्षा के बारे में अपनी व्यक्तिगत कहानियों को साझा किया है. जिसमें उन्होंने बताया कि कैसे वाहन ने उन्हें एक बड़ी दुर्घटना के दौरान सुरक्षित रखा. हाल ही में टाटा मोटर्स की एंट्री लेवल कार टाटा टियागो ने एक बार फिर से खुद को सबसे सुरक्षित कार साबित कर दिया है. ऐसा इसलिए क्योंकि टियागो से एक दुर्घटना हुई जिसमें उसके मालिकों में से किसी को भी खरोच तक नहीं आई.

दरअसल टाटा टियागो के मालिक सत्य प्रकाश रेड्डी ने दुर्घटना के बारे में बताया कि उन्होंने अक्टूबर 2020 में कार खरीदी थी और वह अहमदाबाद से हैदराबाद की यात्रा कर रहे थे. जिस दौरान यह घटना हुई. हालांकि उनके साथ उनके दो दोस्त भी थे. चूंकि दुर्घटना बहुत गंभीर थी. इसमें वाहन चालक की ओर से पूरी तरह से टियागो क्षतिग्रस्त हो गई और कार की छत भी रोलओवर के कारण पूरी तरह से खराब हो गई थी.

कार मालिक ने कहा कि स्थानीय लोग उसके बचाव के लिए आए तो वह बेहोश थे. उसके दाहिने हाथ पर कुछ घाव थे जबकि उसके दो दोस्तों को कोई बड़ी चोट नहीं आई थी. वाहन मालिक कार की सुरक्षा सुविधाओं से इतना प्रभावित हुए कि उसने दुर्घटना के बाद 17 नवंबर 2020 को एक और टियागो खरीदी.

ग्लोबल एनसीएपी द्वारा दी गई सुरक्षा रेटिंग के अनुसार टाटा टियागो टाटा अल्ट्रोज़ के बाद भारत में दूसरी सबसे सुरक्षित हैचबैक कार है. बता दें कि इसकी शुरुआती दिल्ली एक्स-शोरूम कीमत 4.7 लाख रूपए है जो इसके टॉप एंड वेरिएंट पर 6.74 लाख रूपए तक जाती है. Global NCAP की तरफ से इसे 4 स्टार रेटिंग दी गई है. वहीं एडल्ट प्रोटेक्शन के लिए इसे 4 स्टार मिले है जबकि चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए इसे 3 स्टार रेटिंग मिली है.

Published by Yash Sharma on 15 Feb 2021

Related Articles

Latest Articles